नवरात्र में ‘समृद्ध सुकन्या-समृद्ध समाज’ के तहत डाकघर में बेटियों का खुलेगा सुकन्या समृद्धि खाता-पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव

नवरात्र में ‘समृद्ध सुकन्या-समृद्ध समाज’ के तहत डाकघर में बेटियों का खुलेगा सुकन्या समृद्धि खाता-पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव

रिपोर्ट विकासतिवारी

*डाक विभाग की पहल : नवरात्र में बेटियों को उपहार में मात्र ₹250 से सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाकर कराएं कन्या पूजन*

 

*मिर्ज़ापुर में 53 हजार से ज्यादा बालिकाओं के डाकघरों में खुले सुकन्या समृद्धि खाते*

 

नवरात्र का पर्व नारी-शक्ति की आराधना को समर्पित है। बेटियाँ और महिलाएँ सशक्त होंगी तो समाज भी सशक्त होगा। इसी क्रम में डाक विभाग ने ‘समृद्ध सुकन्या-समृद्ध समाज’ एवं ‘समृद्ध नारी-समृद्ध समाज’ अभियान चलाया है। प्रयागराज परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव के निर्देश पर प्रयागराज रीजन के 7 जिलों – मीरजापुर, सोनभद्र प्रयागराज, कौशाम्बी, प्रतापगढ़, सुल्तानपुर,अमेठी में यह अभियान चलाया जायेगा। प्रयागराज परिक्षेत्र के डाकघरों में अब तक कुल 3.12 लाख बेटियों के सुकन्या समृद्धि खाते खोले जा चुके हैं, वहीं 77 गाँवों को ‘संपूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम’ के रूप में आच्छादित किया जा चुका है। मीरजापुर मंडल में 53 हजार से ज्यादा बालिकाओं के सुकन्या समृद्धि खाते डाकघरों में खुले हैं।

 

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि नारी सशक्तिकरण और वित्तीय समावेशन की दिशा में ‘महिला सम्मान बचत पत्र’ और ‘सुकन्या समृद्धि योजना’ जैसी योजनायें अहम् भूमिका निभा रही हैं। ऐसे में नवरात्र के दौरान बेटियों का सुकन्या समृद्धि खाता और महिलाओं का ‘महिला सम्मान बचत पत्र’ खुलवाकर एक नई पहल की जा सकती है। यह उन्हें आर्थिक व सामाजिक दोनों रूप में सशक्त बनाएगा। आज़ादी के अमृत काल में महिलाओं के लिए आरम्भ ‘महिला सम्मान बचत पत्र’ को भी महिलाओं ने हाथों-हाथ लिया है। श्री यादव ने कहा कि 1 अप्रैल, 2023 से आरंभ इस योजना में प्रयागराज परिक्षेत्र में साढ़े पाँच हजार से अधिक महिलाओं ने लगभग 48.92 करोड़ रूपये का निवेश किया है। वहीं ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ को मूर्त रूप देते हुए प्रयागराज परिक्षेत्र में अब तक कुल 3.12 लाख बेटियों के सुकन्या समृद्धि खाते खोले जा चुके हैं, जिनमें गत वित्तीय वर्ष में लगभग 30 हजार बेटियों ने सुकन्या खाते खुलवाए।

 

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि सुकन्या समृद्धि योजना के तहत मात्र ₹250 से 10 वर्ष तक की बेटियों का खाता डाकघर में खुलवाया जा सकता है। इसमें 8.2 % ब्याज है, जो कि किसी भी लघु बचत योजना से अधिक है। यह खाता बेटियों की पढ़ाई एवं शादी के लिए एक वरदान की तरह है। आयकर की धारा 80 सी के तहत आयकर में डेढ़ लाख तक की छूट का भी प्रावधान इस खाते में है।

 

पोस्टमास्टर जनरल श्री यादव ने कहा कि नवरात्र के दौरान परिवार की बेटियों का डाकघर में सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाकर कन्या पूजन कर सकते हैं। यह कार्य नवरात्रि में किया जाए तो और भी पुण्य मिलेगा। नवरात्रि में कन्याओं का बहुत महत्व होता है। इस दौरान कन्याओं को पूजा के लिए घर पर आमंत्रित कर उपहार देने की भी परंपरा है।

 

मीरजापुर मंडल के अधीक्षक डाकघर श्री सुरेश चंद ने बताया कि सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाने के लिए बालिका के आधार की प्रति और उसके माता या पिता के आधार कार्ड एवं पैन की प्रति तथा दो फोटो के साथ नजदीकी डाकघर में संपर्क किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!