यूविन पोर्टल को लेकर ब्लाक स्तरीय अधिकारियों को मिला प्रशिक्षण

ज्ञानपुर।

यूविन पोर्टल को लेकर ब्लाक स्तरीय अधिकारियों का एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम स्वास्थ्य विभाग के तत्वावधान एवं यूएनडीपी के सहयोग से आयोजित हुआ। प्रशिक्षण कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के नियमित टीकाकरण के मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅक्टर सन्तोष कुमार चक ने बताया कि कोविड टीकाकरण को लेकर शुरू किये गये कोविन पोर्टल की तर्ज पर यूविन पोर्टल में बदलाव किए गए हैं। पहले जहां यह यूविन पोर्टल कोल्ड चेन से संबंधित जानकारी रखता था वहीं अब इस पोर्टल के माध्यम से महिलाओं और बच्चों के टीकाकरण संबंधी सारी जानकारी मिल सकेगी।

मुख्य चिकित्साधिकारी ने कहा कि इस पोर्टल को शुरू करने का उद्देश्य शत प्रतिशत टीकाकरण में लाभार्थी के अनुसार सूचना एवं देय टीकों की रियल टाइम स्थिति प्राप्त करनी है। यह पोर्टल कोविन पोर्टल की तरह काम करेगा। इस पोर्टल के शुरू होने से लाभार्थी को यह सुविधा होगी कि वह घर बैठे ही टीकाकरण के लिए स्लॉट बुक कर सकता है। जिस तरह से कोविड वैक्सीन के लिए करते थे। इसके साथ ही कोविड टीकाकरण के बाद लाभार्थी को टीकाकरण लगने का प्रमाणपत्र मिलता थाए उसी तरह यूविन पोर्टल द्वारा भी टीकाकरण के बाद प्रमाण पत्र मिलेगा। यूविन पर पंजीकरण होने के बाद गर्भवती और बच्चे का देश में कहीं भी टीकाकरण हो सकेगा।

ब्लाक सम्बन्धी अधिकारी यहां पर प्रशिक्षण लेने के बाद यह अधिकारी अपनेण्अपने क्षेत्रों में आशा कार्यकर्ता और एएनएम को प्रशिक्षण देंगे। यूविन पोर्टल की शुरुआत स्वयंसेवी संस्था यूएनडीपी के सहयोग से की गई है। यूविन पोर्टल पर शून्य से छह साल तक के बच्चों और गर्भवती को लगाए गए टीकों की ऑनलाइन ट्रेकिंग की जाएगी

जिससे कि ड्यू लिस्ट के अनुसार टीकाकरण करना आसान होगा। इसके साथ ही यूविन पर प्रसव का विवरण भी दर्ज होगा। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि यूविन को कोविनए ईण्विन और आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन से भी लिंक किया गया है।
यूएनडीपी के प्रभात मिश्र ने बताया कि यूण्विन पोर्टल या ऐप को मोबाइल में डाउनलोड कर लाभार्थी स्वयं तथा अपने परिवार के सदस्यों को पंजीकृत कर इसका लाभ उठा सकते हैं। प्रशिक्षण के पहले दिन जिले प्रभारी चिकित्साधिकारियों के अलावा बीसीपीएम और सभी नगरीय सामुदायिक स्वास्थ्य स्वास्थ्य केंद्र के स्वास्थ्य अधिकारियों ने प्रतिभाग किया। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि प्रशिक्षण के दूसरे दिन ग्रामीण सीएचसी के स्वास्थ्य अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!