सदियों के संघर्ष, लाठी, गोली जेल के बाद मिला हुआ राम मन्दिर : मनोज श्रीवास्तव 

राम भक्तों के आस्था एवं विश्वास का प्रतिफल है अयोध्या में मन्दिर

रिपोर्ट विकास तिवारी

सदियों के संघर्ष, लाठी, गोली जेल के बाद मिला हुआ राम मन्दिर : मनोज श्रीवास्तव

 

मिर्जापुर। अयोध्या में भगवान श्रीराम लला के भव्य मन्दिर का निर्माण और प्राण प्रतिष्ठा करोड़ों जनता के संकल्प का परिणाम है। यह आस्था , विश्वास और सनातन संस्कृति की जीत हैं। यह वास्तव में हिंदू समाज के लिए विजय पर्व हैं। उक्त विचार राष्ट्रवादी मंच के अध्यक्ष एवं अशोक सिंहल के अनन्य सहयोगी रहे मनोज श्रीवास्तव ने संगमोहाल मन्दिर पर आयोजित उत्सव पर्व पर व्यक्त किया।

 

श्री श्रीवास्तव ने कहा कि धर्म पथ पर चलकर राम भक्तों ने संघर्ष किया। लाठी, गोली खाई जेल गए। रामकाज में तेरा तुझकों अर्पण की भावना से जुड़े रहे। न्यायालय पर पूर्ण विश्वास रहा। सत्य की जीत तय है। यह भावना सत्य हुआ। कोर्ट के आदेश पर भव्य मन्दिर तैयार है। जिस पर उन्होंने पक्ष और विपक्ष को आस्था के केंद्र बिंदु को बयानबाजी से दूर रखने की सलाह दी। कहा कि घट घट में बसें श्रीराम भारतीय जनता की प्राण वायु है । भक्तों के आस्था और विश्वास के साथ ही प्रभु श्रीराम के प्रति अगाध प्रेम का प्रतिफल है।

कार्यक्रम में मनोज दमकल , रवि शंकर साहू,संतोष कुमार संतु , पंकज दुबे , अनिल गुप्ता, अखिलेश अग्रहरि, रवि पुरवार, रामचंद्र शुक्ला, जितेंद्र यादव एवं राजेश सिन्हा , प्रदीप साहू, मुन्ना मोदनवाल, श्रीधर पांडे, बाबा मोदनवाल,आदि उपस्थित रहे । इस मौके पर दो कुंतल प्रसाद वितरित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!