रामलला का दर्शन कराएगी भाजपा, हर बूथ से जाएंगे पांच भक्त

रामलला का दर्शन कराएगी भाजपा, हर बूथ से जाएंगे पांच भक्त

 

रोहित सेठ

 

प्रदेश के एक लाख 62 हजार बूथों से जाएंगे राम भक्त

 

श्रीराम जन्मभूमि मंदिर दर्शन कार्यक्रम होगा 25 जनवरी से 25 मार्च तक

 

प्रत्येक जिले के लिए तिथि होगी नियत, जल्द की जाएगी घोषणा

 

सिर्फ वाहन ही नहीं, रहने व खाने का भी इंतजाम करेगा संगठन

 

यात्रा से पहले ही कराया जाएगा पंजीयन, बूथ कमेटी को मिली जिम्मेदारी

 

वाराणसी 15 जनवरी:- लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा ने धर्मार्थ का एक बड़ा संकल्प लिया है। जनता को श्रीराम का दर्शन कराने का अनुष्ठान पूरा किया जाएगा। योजना बन गई है। 25 जनवरी से संकल्प के सापेक्ष कार्य प्रारंभ होगा। 25 मार्च को होगा समापन। सिर्फ वाहन ही नहीं, रहने व खाने की सुविधा भी संगठन की ओर से की जाएगी। हर बूथ से अधिकतम पांच लोगों का चयन होगा। धर्मयात्रा से पूर्व ही रामभक्तों का पंजीयन किया जाएगा, जिसकी जिम्मेदारी बूथ कमेटी की होगी।

यह जानकारी देते हुए भाजपा काशी क्षेत्र के अध्यक्ष दिलीप पटेल ने कहा कि प्रदेश भाजपा की ओर से मिली जानकारी के अनुसार 22 जनवरी को विधि विधान द्वारा प्रभु श्रीराम की भव्य दिव्य प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा होगी। इसके पश्चात् पूरे देश से रामभक्त 25 जनवरी से 25 मार्च के मध्य अपने जिला/लोकसभा क्षेत्र के निर्धारित तिथि पर श्रीराम जन्मभूमि मंदिर दर्शन अयोध्या धाम जाएंगे। सभी जिलों व लोकसभा क्षेत्रों की निर्धारित तिथियों की जानकारी शीघ्र ही भाजपा क्षेत्र संगठन को उपलब्ध करा दी जाएगी।

सभी रामभक्त अपने क्षेत्र की निर्धारित तिथि पर ही दर्शन कर सकेंगे। रामभक्तों का श्रीराम जन्म भूमि दर्शन अभियान में प्रदेश के सभी एक लाख 62 हजार बूथों से 2 से 5 लोगों चयन किया जाएगा। नियत तिथि पर दर्शन के लिए अयोध्या धाम लाने की व्यवस्था संगठन की ओर से होगी। सभी रामभक्तों के अयोध्या धाम से वापस अपने घर सकुशल पहुँचने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाएगी। अयोध्या धाम से प्रभु श्रीराम का दर्शन करने के पश्चात जब अपने गांव व वार्ड में आएंगे तो वहां रहने वाले सभी नागरिक एक स्थान पर एकत्र होकर उनका स्वागत एवं अभिनंदन करेंगे। इस दौरान अयोध्या की यात्रा व दर्शन-पूजन के अनुभवो को सुनेंगे। इस अवसर पर प्रभु श्रीराम के चित्र पर पुष्पार्चन के बाद प्रसाद वितरित किया जाएगा।

भाजपा काशी क्षेत्र के मीडिया प्रभारी नवरतन राठी ने श्रीराम जन्मभूमि मंदिर दर्शन के लिए प्रदेश से प्राप्त महत्वपूर्ण जानकारियां बताते हुए कहा कि सभी रामभक्तों को अयोध्या लाने से पूर्व परिचय पत्र दिया जाएगा,

अपने स्थल से चलने एवं अयोध्या धाम पहुँचने की जानकारी पूर्व में प्रदेश द्वारा दिए गए फार्मेट में भरना होगा

अयोध्या धाम के आसपास के वे जनपद जो एक दिन में ही आकर अपने निवास स्थल वापसी जा सकते हैं, उनकी व्यवस्था अलग रहेगी। अयोध्या धाम में अस्था स्पेशल ट्रेन के माध्यम से आने वाले राममक्तों की व्यवस्था अलग रहेगी। धाम पहुँचने के बाद वहां लगी हुई कारसेवकों की टोली आने वाले सभी रामभक्तों को व्यवस्था अनुसार दर्शन करने में सहयोग करेगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!