केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, नई दिल्ली के अध्यक्षता में संस्कृत के उद्भव एवं उत्कर्ष के लिए बैठक–

केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, नई दिल्ली के अध्यक्षता में संस्कृत के उद्भव एवं उत्कर्ष के लिए बैठक–

 

रोहित सेठ वाराणसी

संस्कृत शिक्षण सम्मान राशि, व्यावसायिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम तथा संस्कृत का व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार करने हेतु उच्चस्तरीय बैठक में 96 प्रस्ताव स्वीकृत— प्रो रामपूजन पाण्डेय।

 

केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, नई दिल्ली के द्वारा एक उच्च स्तरीय बैठक कर संस्कृत शिक्षण सम्मान राशि, व्यावसायिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम तथा संस्कृत का व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार करने हेतु वित्तीय सहायता हेतु सहमति प्रदान करने हेतु प्रदेश से 96 प्रस्ताव स्वीकार किये गये हैं।

इस संबंध में आज सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय, वाराणसी के न्याय शास्त्र के वरिष्ठ आचार्य प्रो रामपूजन पाण्डेय ने बतौर सदस्य ऑनलाइन माध्यमों से केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, नई दिल्ली के कुलपति प्रो श्रीनिवास बरखेड़ी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में सहभाग करते हुए बताया।

प्रो रामपूजन पाण्डेय ने बताया कि इस उच्च स्तरीय बैठक में 06 अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ हुये बैठक में 2023-24 के लिए संस्कृत भाषा के व्यापक प्रचार हेतु गाईड दिया गया है जिसमें जमीनी स्तर से लेकर प्रत्येक दृष्टिकोण से हर क्षेत्र में प्रचार करने के लिए प्लेटफार्म तैयार करने का मंथन किया गया।

उक्त बैठक में उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय, हरिद्वार के कुलपति प्रो दिनेश चंद्र शास्त्री, प्रो सुमन दीक्षित, डॉ धर्म चंद जैन, प्रो सत्यम कुमारी सहित अन्य लोग उपस्थिति रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!