उत्तर प्रदेश के राजभवन द्वारा आयोजित हुई ‘विकसित भारत @2047’ वर्कशॉप

रोहित सेठ VARANASI

युवा पीढ़ी पर ही विकसित भारत के सपने साकार करने का दायित्व है।कुलपति प्रो बिहारी लाल शर्मा.

राजभवन उत्तर प्रदेश के द्वारा आयोजित ‘विकसित भारत’@2047 वर्कशॉप में
सम्पूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो बिहारी लाल शर्मा के अध्यक्षता में विश्वविद्यालय के कुलसचिव राकेश कुमार सहित सभी आचार्य एवं विद्यार्थियों ने ऑनलाइन/वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग माध्यमों से सहभाग किया।
योगसाधना केंद्र एवं पाणिनि भवन सभागार में ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से आयोजित ‘विकसित भारत @2047 वर्कशॉप के अंतर्गत अध्यक्षता करते हुए कुलपति प्रो बिहारी लाल शर्मा ने कहा कि इस वर्कशॉप के माध्यम से विकसित भारत की तरफ अग्रसर होने का मार्ग प्रशस्त हो रहा है।आज देश के युवा (विद्यार्थियों एवं अध्यापक) प्रधानमन्त्री जी द्वारा दिए गए संदेश के माध्यम से आत्म मंथन कर 2047 के लक्ष्य की तरफ योगदान देने के तैयार हों।युवा पीढ़ी पर ही विकसित भारत के सपने साकार करने का दायित्व है।आज इसी विजन पर गति के साथ कार्य करने जरूरत है।नई तकनीकी व्यवस्था से युवाओं को जोड़कर डिजिटल भारत के सपने को साकार करना है।

ऐसा क्या करें कि भारत विकसित बनने के अपने मार्ग में तेजी से आगे बढ़े और इसके लिए देश की युवा ऊर्जा को ऐसे ही लक्ष्य के लिए चैनलाइज करना है।

पीएम मोदी ने कहा कि आइडिया और इंडिया में सबसे पहले आता है और ये आइडिया ही सबसे कारगर तरीका होगा। विकसित भारत के विजन के तहत लॉन्च किए गए पोर्टल पर पांच अलग-अलग सुझाव दिए जा सकते हैं। सबसे बेहतरीन 10 सुझावों और आइडिया के लिए पुरस्कारों की भी व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि हमें ऐसी युवा पीढ़ी को विकसित करना है जो आने वाले समय में देशहित को सर्वोपरि रखते हुए भारत को तरक्की की राह पर सबसे आगे बनाए रख गया।

ऑनलाइन माध्यम से विश्वविद्यालय के प्रो रामकिशोर त्रिपाठी, प्रो रामपूजन पाण्डेय, प्रो हरिशंकर पाण्डेय, प्रो जितेन्द्र कुमार, प्रो सुधाकर मिश्र, प्रो दिनेश कुमार गर्ग, प्रो ललित कुमार चौबे, प्रो महेंद्र पाण्डेय, प्रो रमेश प्रसाद,डॉ विजेंद्र कुमार आर्य, डॉ रविशंकर पाण्डेय सहित सभी अध्यापक एवं विद्यार्थियों ने सहभाग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!